पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र | जाने पढ़ाई में मन लगाने का 10 जादुई तरीका

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र | जाने पढ़ाई में मन लगाने का 10 जादुई तरीका

हर पढ़ने वाला स्टूडेंट का यह सवाल होता है की मेरा पढ़ाई में मन नहीं लगता क्या करूं? तो इसमें ज्यादा घबराने वाला बात नहीं है, क्योंकि इस पेज में जानेंगे पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र।

आजकल के डिजिटल जमाना में बच्चे कहीं न कहीं पढ़ाई से भटक रहें हैं| जो की एक बेहद चिंता का विषय है। और ये सब के बीच में बच्चे का भविष्य का रफ्तार भी बेहद धीमी हो चुकी है|

और इसका एक ही निदान है की पढ़ाई पूरी ध्यान से करें| आइए जानते हैं पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र( Padhai me man lagane ka mantra in Hindi) पढ़ाई में मन लगाने का आसान तरीका,

 

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र, padhai me man lagane ka mantra In Hindi.


 

ये हैं पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र(Mantra to focus on Studies in hindi)

पढ़ने में मन लगाने का तरीका है की पढ़ाई करने का नियम का ईमानदारी पूर्वक पालन करें। पढ़ाई करने से पहले कुछ तरीके आजमाएं उसके बाद ही पढ़ाई शुरू करें जैसे की पढ़ाई करते समय आपका मुंह पूर्व दिशा की ओर होनी चाहिए। और पढ़ने से पहले ‘ ॐ ह्रीं श्रीं सरस्वत्यै नम:। ॐ ऐं सरस्वत्यै ऐं नम:, इस मंत्र का 11 बार जाप करें। इसके बाद पढ़ना शुरू करें, इस मंत्र को जाप करने से विद्या और ज्ञान में बढ़ोतरी होती है।

  • पढ़ने में मन लगाने के लिए सबसे पहले अपने माहौल को समझे ऐसे माहौल में रहकर पढ़ने से बचें जहाँ बहुत ही ज्यादा शोर होता हो।
  • पढ़ाई करते वक्त अपने से बड़ो का मार्गदर्शन जरूर लें।
  • उस क्षेत्र में अपना लक्ष्य बनाएं जिसमें आपका मन ज्यादा लगता हो।

पढ़ाई में मन लगाने का 10 जादूई तरीका

यह बहुत से स्टूडेंट का सवाल होता है की उन्हें पढ़ाई में मन नहीं लगता है। और ऐसे में वो अलग-अलग तरीके खोजते रहते हैं। आइए जानते हैं पढ़ाई में मन कैसे लगाएं?

1. पढ़ाई में मन लगाने के लिए ध्यान जरूर करें

पढ़ाई में मन लगाने का सबसे सीधा और काफी असरदार तरीका यहाँ है की हर पढ़ने वाले छात्र को सुबह में मेडिटेशन जरूर करना चाहिए। इससे एकाग्रता बढ़ती है। जो पढ़ाई करने में काफी मदद करेगी।

ध्यान लगाने के लिए सुबह की समय बेहद उपयुक्त होती है लगभग अहले सुबह बेहद शांत माहौल होती है आप चाहें तो अपने घर या छत पर भी बैठकर ध्यान कर सकते हैं लेकिन खुली प्राकृतिक के बीच करना है तो शहर में रहते हैं तो हरे भरे स्थान जैसे की पार्क में बैठकर ध्यान कर सकते हैं।

2. लक्ष्य निर्धारण करें

ऐसा कहा जाता है की इंसान को वह काम करने में कोई भी परेशानी नहीं होते हैं जिनमें की उनका मन होता है। ऐसा ही पढ़ाई में भी है आप जब अपने लक्ष्य पर फोकस करना शुरू कर देंगे तो इससे पढ़ाई करना एक सपना हो जायेगा।

पढ़ाई करने से पहले यह तैयारी कर लें की आज क्या पढ़ाई करनी है| और वही सारे विषय से पढ़ना शुरू करें।

पढ़ाई में मन लगाने के लिए ऐसा नहीं है की हमारे दिमाग ही अच्छे से काम करे और पढ़ाई में मन लगन लग जाएंगे उसके लिए आपके पढ़ने के पीछे वजह होनी चाहिए की आपको पढ़कर क्या हासिल करना है। जब पढ़ने के पीछे लक्ष्य होगा तो अपने आप पढ़ने में मन लगना शुरू हो जाएगा।

3. ध्यान विचलित करने वाले चीजों से दूर रहें

एक स्टूडेंट के जीवन में बहुत से ऐसे साधन और वजह होते हैं जिनके कारण वे पढ़ाई में मन नहीं लगा पाते हैं। तो इस सब चीजों से बचने की कोशिश करें।

कई विद्यार्थी ऐसे भी होते हैं जब वे पढ़ने के लिए बैठते हैं उसी वक्त किसी प्रकार की म्यूजिक शुरू कर देते हैं या ऐसे मनोरंजन के साधन के उपयोग करतें हैं जिनसे पढ़ाई के ऊपर पूरी तरह से ध्यान केंद्रित करने में असमर्थ हो जाते हैं।

पढ़ाई में मन लगाना है तो पढ़ाई करते वक्त बाकी के चीजों से दूर रहें इस वक्त सिर्फ पढ़ाई के बारे में ही सोचें जितना ज्यादा ही सके शांत माहौल का चुनाव करें अगर आप ऐसे जगह रह रहें हैं जहां पर शांत माहौल नही रह पाता है तो सबसे पहले यह देखें की सभी लोग सोते कब हैं और जागते कब हैं आप उसी बीच में पढ़ाई कर सकते हैं फिर किसी भी तरह की पढ़ाई में बाधा उत्पन्न नहीं होगा।

4. पढ़ने के लिए समय फिक्स करें

मन लगने का मुख्य कारण यह भी हो सकता है  की आपका पढ़ने का कोई समय ही तय नहीं है। और कब क्या करना है क्या नहीं तो ऐसे में तो ये समस्या होगा ही। इससे से बचने के लिए एक रूटीन बनाए और उसी के अनुसार पढ़ाई करें।

इस दुनियां में कुछ भी करना ही उसके लिए एक नीयत समय का चुनाव करना आवश्यक होता है तभी आप उस काम में सफल हो पाते हैं। पढ़ाई करने के लिए भी अपने हिसाब से उपयुक्त समय का चुनाव करें और कोशिश करें की इस वक्त आपको किसी भी तरह की कार्य ना हो ना ही खेलने का समय ही अन्यथा ऐसा भी कर सकते हैं सारे कामों से निर्वित होने के बाद ही पढ़ना शुरू करें।

5. विषयों पर ध्यान दें

बहुत से स्टूडेंट का यह देखा गया है की उन्हें सबसे पहले विषय का पता ही नहीं होता है तो आप ही बताइए की वे कैसे और क्या पढ़ाई करेंगे। पढ़ाई में मन लगाने के लिए सबसे पहले विषय में पकड़ बनाएं। और उन्हें पूरी तरह सिलेबस के अनुसार पढ़ाई करें।

पढ़ाई में मन लगाने के लिए सबसे पहले यह पता होना चाहिए की क्या पढ़ना है? इसके लिए अपनी कक्षा की सारे विषय को एक बार अध्यन्न जरूर कर लें उसके बाद अच्छे से समझ सकते हैं की किस विषय को कितनी समय देने की आवश्यकता होगी।

6. डिजिटली यंत्रों से दूर रहें

आजकल के युवा के साथ सबसे बड़ा समस्या है की वे इस डिजिटल साधनों के वजह से पढ़ाई में ध्यान नही लगा पाते हैं। और इस कारण से वे सही तरीके से पढ़ाई नहीं कर पाते है। पढ़ाई करते वक्त इन सब चीजों को दूर रखें जैसे की मोबाइल, सोशल मिडिया आदी। ये सब चीजें के पीछे समय बर्बाद करने से कुछ फायदा नही है। बल्कि जहाँ तक पढ़ने में मन नहीं लगने का एक मुख्य कारण हो सकता है।

पढ़ाई के साथ भी डिजिटल दुनियां में भी जुड़े रहना है तो एक नियम बना लें की कब और कितनी देर तक इन सभी चीजों को समय देना है। ध्यान रहे की इनका आदत नहीं बनानी है।

7. गलत संगत से दूर रहें

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र भी काम नहीं करने वाला है जब आपका संगत गलत हो। ऐसे मे इसका एक सरल सा उपाय है की गलत आदत और संगत से खुद को दूर रखें। जिनसे की आपको  पढ़ने में मन नहीं लगता है। पढ़ाई में मन लगाने के लिए खुद को Motivate करें।

खुद को गलत भावनाओं से दूर रखने के लिए सुबह ध्यान करें अच्छे अच्छे किताबें पढ़े जितनी ज्यादा ही सके भजन सुने और कुल मिलाकर अपने दिमाग को सकारात्मक रखने की कोशिश करें।

8. खुद का ख्याल रखें

पढ़ाई में मन लगाने के लिए खुद का ख्याल रखें। मेरा कहने का मतलब यह है की समय से नींद लें। अगर नींद की समस्या हो तो पढ़ाई करने में भी समस्या हो सकता है। ऐसे में जब आप ठीक से सो नहीं पाएंगे तो दिन में पढ़ने में मन नहीं लग पायेगा।

अपने सेहत की ख्याल रखने के लिए अच्छी पौष्टिक भोजन करें और पर्याप्त नींद के साथ व्यायाम करते रहें इससे जब शरीर स्वास्थ रहेगा तो दिमाग भी अच्छे से कार्य कर पाएंगे।

आइए पढ़ाई में मन लगाने के मंत्र से जुड़े कुछ सवाल को देखते हैं।

बच्चों को पढ़ाई में मन ना लगे तो क्या करना चाहिए?

बच्चों को जब पढ़ाई में मन ना लगे तो उन्हें पढ़ाई की महत्व के बारे में बताने को प्रयास करें और साथ में यह जानने की कोशिश करें की आखिर बच्चों को पढ़ाई में मन क्यों नही लग रहा है।

  • बच्चों के सेहत की बारे में जानने की प्रयास करें बहुत से बच्चे को सेहत अच्छी ना रहने की वजह से भी पढ़ाई में मन नहीं लग सकता है अगर ऐसा है तो सबसे पहले उनका सेहत सुधारने की कोशिश करें इसके बाद आप देख सकते हैं की बच्चे पढ़ने की ओर आकर्षित हो रहा है या नही।
  • बच्चे की नींद को समझें कई बार ऐसा भी होता है की रात में वे ठीक से सो नहीं पा रहें हैं जिससे दिनभर उन्हें आलस आता हो अगर ऐसा है तो उनका ना सोने का कारण को जानने के बाद उनका निपटान करें।
  • बच्चों को ज्यादा से ज्यादा तनाव मुक्त रखने की प्रयास करें अनवर ध्यान दे की पढ़ते वक्त उनका ध्यान कही और या कुछ अन्य बातों को सोचने में तो नहीं लगा रहा है।
  • बच्चे की इच्छा जानने की प्रयास करें कई बार ऐसा होता है की आप जो पढ़ा रहे हैं वह बच्चे को पढ़ने का मन नहीं करता हो उन्हे कुछ अन्य विषयों में मन लगता हो अगर इस तरह की परेशानी है तो उनके पसंद की विषयों को पढ़ने के लिए आजादी दे।
  • बच्चों को पढ़ाई में मन लगाने के लिए माहौल का पूर्ण रूप से ध्यान रखें उनके बैठने की जगह साफ हो तथा वहां किसी प्रकार की को शोर सरावा ना होता हो ऐसे जगह पर बच्चों को पढ़ान की प्रयास करें।

पढ़ाई में मन नहीं लग रहा है तो क्या करें?

  • पढ़ाई में मन लगाने के लिए रोज योगा करें।
  • अगर पढ़ने में मन नहीं लगता तो अपने पसंदीदा विषय से पढ़ाई करना शुरु करें।
  • अपनी पढ़ाई को नियमित बनाए रखें।
  • जब पढ़ने में मन नहीं लगने लगे तो थोड़ी देर के लिए ब्रेक लें।
  • बहाना से बचें अपने काम को समय पर पुरा करने की कोशिश करें।

ये आर्टीकल में यह सीखा की पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र( Padhai me man lagane ka mantra hindi) पढ़ाई में मन लगाने का आसान तरीका बताया गया है। जिससे की छात्रों को मदद मिल सके। इससे जुड़े किसी भी तरह के प्रश्न कमेंट के माध्यम से पुछ सकते हैं। आप अपनी राय भी दे सकते हैं, की आप पढ़ाई में मन लगाने के लिए कौन सा तरीका को अपनाते हैं, हम इसे अगले पोस्ट में शामिल जरुर करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *